Thursday , 22 August 2019
Home » Diabetes Care and Management » योग के इन चमत्कारिक फायदों को जानकर हो जाएंगे हैरान

योग के इन चमत्कारिक फायदों को जानकर हो जाएंगे हैरान

डायबिटीज़ अनियमित लाइफस्टाइल के कारण पैदा होने वाली एक गंभीर बीमारी है। इस बीमारी में शरीर में इंसुलिन की कमी होने लगती है या वह सही से कार्य नहीं करता है। ज्यादा सोचना, हर वक्त तनाव में रहना, मेहनत नहीं करना आदि भी डायबिटीज़ के कारण बनते हैं। कुछ लोगों में यह अनुवांशिक कारणों से भी हो जाता है।

लिहाजा अगर अपनी लाइफस्टाइल को सही से मैनेज किया जाए तो डायबिटीज़ के होने की संभावना बहुत कम होती है और अगर किसी को डायबिटीज़ पहले से है तो इसे भी हेल्दी लाइफस्टाइल के जरिए कंट्रोल में रखा जा सकता है। हम इस लेख में आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे आप योग की विभिन्न मुद्राओं के माध्यम से डायबिटीज़ को कंट्रोल में रख सकते हैं?

हर रोज अपनी दिनचर्या में योग को शामिल करना कई प्रकार से लाभकारी होता है। इसके लिए सूर्य नमस्कार सबसे बेहतर और आसान विकल्प है। सूर्य नमस्कार सुबह से ही आपको तरोताजा और मानसिक रूप से स्वस्थ्य रखने में मदद करता है।

इसके अलावा आप जानुषिरासन, अर्ध मत्सयेंद्रासन, धनुरासन, सर्वांगासन, हलासन को भी कर सकते हैं। यह सभी आसन आपको किसी न किसी प्रकार से लाभ पहुंचाने का कार्य करते हैं। दरअसल योग शरीर की मांसपेशियों को कार्य करने की इजाजत देता है, जिससे ब्लड में मौजूद अपशिष्ट पदार्थ नष्ट हो जाते हैं और शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है।

संभव हो तो आप उपर दिए गए योग आसन को करने के बाद विलोम प्राणायाम, भस्त्रिका प्राणायाम, कपालभाति, दीर्घ श्वासन जरूर करें। आप 15 दिनों में एक बार शंख प्रक्षालन को भी ट्राई कर सकते हैं। योग के साथ ध्यान करना भी एक बेहतर विकल्प हो सकता है। यह आपको तनाव से दूर रखने में मदद करता है।

क्या बरतें सावधानी?

यह तो सच है कि योग डायबिटीज़ की परिस्थिति में व्यक्ति के लिए लाभकारी है, लेकिन अगर यह हेल्थ एजुकेटर की देख-रेख में हो तो सबसे बेहतर रहता है। एक्सपर्ट आपको आपके ब्लड शुगर लेवल की रीडिंग, दिनचर्या और जोखिम की संभावनाओं के आधार पर खान-पान और योग के किसी एक आसन को करने की सलाह देता है।

अपनाए ये नुस्खे

आप नीचे दिए जा रहे कुछ घरेलू नुस्खों को भी अपनाकर स्वस्थ लाइफस्टाइल की दिशा में अपना कदम आगे बढ़ा सकते हैं..

  • डायबिटीज़ की परिस्थिति में हर दिन नींबू और आंवले का पानी पीना काफी लाभकारी होता है।
  • प्रत्येक सुबह लहसून का सेवन करना फायदेमंद होता है।
  • फास्ट फूड और शराब के सेवन को बंद कर दें और संभव हो तो मेथी के पानी का सेवन करें।
  • खान-पान में ज्यादा से ज्यादा सब्जियों या फिर सलाद को शामिल करें।
  • करेले का जूस अपने प्रतिरोधी गुणों के लिए जाना जाता है। यह ब्लड शुगर को कंट्रोल रखने में मदद करता है।

ध्यान रहे कि डायबिटीज़ में केवल योग करना ही पर्याप्त नहीं होता है। इसे कंट्रोल में रखने के लिए हेल्दी आहारों को अपनी डाइट में शामिल करना और नियमित तौर पर ब्लड शुगर लेवल की निगरानी करना भी जरूरी होता है। आप अपने ब्लड शुगर लेवल की निगरानी के लिए बीटओ स्मार्टफोन ग्लूकोमीटर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, जो कहीं भी, कभी भी आपके ब्लड ग्लूकोज के रूझानों के बारे में आसानी से आपको जानकारी देता है।

Get BeatO Glucometer with 10 strips at ₹449

Check Also

What is Polydipsia

What is Polydipsia – Is it a symptom of Diabetes?

Am I always feeling thirsty? Does no amount of water seem enough to me? Am …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *