Home»Blog»डायबिटीज टिप्स » डायबिटीज मैनेजमेंट के लिए फॉलो करें ये रूटीन, शुगर रहेगा कंट्रोल

डायबिटीज मैनेजमेंट के लिए फॉलो करें ये रूटीन, शुगर रहेगा कंट्रोल

364 0
sugar testers for diabetes management
0
(0)

डायबिटीज एक पुरानी समस्या है जो दुनिया भर में लाखों लोगों को प्रभावित कर रही है, और हाल ही के वर्षों में इसका प्रचलन बढ़ रहा है। सही ख़ान- पान के साथ डायबिटीज मैनेजमेंट ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने के सबसे महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक माना जा रहा है। संतुलित डायबिटीज, बेहतर स्वास्थ्य और ग्लाइसेमिक नियंत्रण के लिए सही खान-पान का पालन करना ज़रूरी है। हम इस ब्लॉग के माध्यम से डायबिटीज को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करने में मदद करने के लिए पांच ऐसे चरणों के बारे में बताएंगे, जिनमें ग्लूकोज स्ट्रिप्स और ग्लूकोमीटर का भी इस्तेमाल शामिल है।

चरण 1: डायबिटीज के अनुसार खान-पान को समझें

डायबिटीज मैनेजमेंट करने के लिए सबसे पहले आपको अपने खान-पान पर ध्यान देना चाहिए. खान-पान, शुगर लेवल को नियंत्रित करने, वजन नियंत्रण और संपूर्ण स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है। इसमें सही मात्रा में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और फैट का संतुलित मिश्रण लेना शामिल है। शुगर लेवल को नियंत्रित करने की कुंजी कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) वाले खाद्य पदार्थों का चयन करना है।

यह भी पढ़ें: बच्चों में डायबिटीज़ से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल

कार्बोहाइड्रेट

कॉम्प्लेक्स (जटिल) कार्बोहाइड्रेट जैसे साबुत अनाज (जई, भूरे चावल, क्विनोआ), फलियां और सब्जियां चुनें। ये खाद्य पदार्थ धीरे-धीरे ग्लूकोज बढ़ाते हैं, जिससे शुगर लेवल में अचानक बढ़ोतरी को रोका जा सकता है।

प्रोटीन

मछली, पोल्ट्री, टोफू और फलियां जैसे प्रोटीन के स्रोत शुगर लेवल को स्थिर बनाए रखने के लिए फायदेमंद होते हैं।

वसा

नट्स, बीज, एवोकाडो और जैतून के तेल में पाए जाने वाले स्वस्थ फैट पर ध्यान दें। हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए ट्रांस वसा से बचें और सैचुरेटेड वसा को सीमित करें।

चरण 2: नियमित रूप से शुगर लेवल की जाँच करें

डायबिटीज मैनेजमेंट के लिए अपने शुगर लेवल पर नज़र रखना ज़रूरी है। ग्लूकोज स्ट्रिप्स और ग्लूकोमीटर घर पर ग्लूकोज के स्तर की जाँच करने के लिए सही उपकरण हैं। ये डिवाइस तुरंत और सही रीडिंग प्रदान करते हैं, जिससे आप अपने खान-पान और दवा के बारे में जानकारी और सही निर्णय ले सकते हैं। नियमित जाँच से आपको यह समझने में मदद मिलेगी कि आपका शरीर आप के खाने में शामिल अलग-अलग चीजों और गतिविधियों पर कैसे प्रतिक्रिया करता है, जिससे आप अपनी डाइट में ज़रूरी बदलाव कर सकेंगे।

ये भी पढ़ें- डायबिटीज वाले लोगों के लिए ब्लड शुगर मैनेज करना कितना जरुरी है?

चरण 3: खाने की योजना और भाग नियंत्रण

डायबिटीज मैनेजमेंट के लिए खाने के समय और पोर्शन साइज़ में निरंतरता ज़रूरी है। फ़ास्ट फ़ूड और ज़्यादा खाने से बचने के लिए अपने खाने की योजना पहले से बनाएं। अपनी अहम जरूरतों और लाइफस्टाइल के आधार पर व्यक्तिगत डाइट प्लान बनाने के लिए एक रेजिस्टर्ड डाइटीशियन से परामर्श करने पर विचार करें। जब भाग नियंत्रण की बात आती है, तो कप और फ़ूड स्केल जैसे डिवाइस का इस्तेमाल कर के खाने के सही भाग को मापना मददगार हो सकता है। याद रखें कि ज़्यादा खाने से, सही डाइट फॉलो करने के बाद भी आपका शुगर लेवल बढ़ सकता है।

चरण 4: हाइड्रेटेड रहें और चीनी युक्त पेय पदार्थों का सेवन सीमित करें

सम्पूर्ण स्वास्थ्य और डायबिटीज मैनेजमेंट के लिए हाइड्रेटेड रहना ज़रूरी है। हाइड्रेटेड रहने के लिए पानी पीना सबसे अच्छा विकल्प है क्योंकि इसमें कैलोरी नहीं होती है या पानी शुगर लेवल को प्रभावित नहीं करता है। सोडा, मीठे जूस और एनर्जी ड्रिंक जैसे चीनी वाली ड्रिंक्स से बचें, क्योंकि यह शुगर लेवल को तेजी से बढ़ाती हैं।

अगर आप कुछ स्वादिष्ट खाना चाहते हैं, तो ज़्यादा चीनी के बिना प्राकृतिक स्वाद जोड़ने के लिए फलों या जड़ी-बूटियों को मिला कर पानी पीने का विकल्प चुन सकते हैं।

ये भी पढ़ें- डायबिटीज स्किन प्रॉब्लम को हल्के में न लें, यह है शुगर लेवल बढ़ने का संकेत

चरण 5: नियमित शारीरिक गतिविधि

डायबिटीज मैनेजमेंट के लिए डाइट के अलावा, नियमित शारीरिक गतिविधि डायबिटीज मैनेजमेंट में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। व्यायाम इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करने में मदद करता है, जिससे आपका शरीर ग्लूकोज का अधिक प्रभावी ढंग से उपयोग कर पाता है। हर सप्ताह कम से कम 150 मिनट के लिए उन गतिविधियों में शामिल रहें जिनका आप आनंद लेते हैं, जैसे कि पैदल चलना, साइकिल चलाना, तैराकी या डांस।

कोई भी व्यायाम शुरू करने से पहले, अपनी स्वास्थ्य स्थिति और फिटनेस के आधार पर अपने हेल्थ एक्सपर्ट से परामर्श लें। यह समझने के लिए कि आपका शरीर कैसे प्रतिक्रिया करता है, व्यायाम से पहले और बाद में अपने शुगर लेवल की जाँच करें और उस के साथ अपनी डाइट प्लान करें।

निष्कर्ष: शुगर लेवल को नियंत्रित करने के लिए सही खान पान के साथ डायबिटीज मैनेजमेंट महत्वपूर्ण है। डायबिटीज डाइट को समझना, ग्लूकोज स्ट्रिप्स और शुगर मॉनिटर का इस्तेमाल करके नियमित रूप से शुगर लेवल की जाँच करना और पोर्शन साइज़ का पालन करना डायबिटीज मैनेजमेंट के लिए महत्वपूर्ण कदम हैं। इस के अलावा, हाइड्रेटेड रहना, मीठे पेय पदार्थों का सेवन कम करना और नियमित शारीरिक गतिविधि में शामिल होना डायबिटीज को नियंत्रित करने और आपके संपूर्ण स्वास्थ्य में सुधार करने के आपके प्रयासों को और अधिक सफल बना सकता है। अपनी ज़रूरतों के अनुसार व्यक्तिगत डाइट प्लान बनाने के लिए, रेजिस्टर्ड डाइटीशियन के साथ और अपनी हेल्थ कोच टीम के साथ मिलकर परामर्श करें।

ये भी पढ़ें- मधुमेह और मोटापा | पेट की चर्बी कम करने के उपाय

उम्मीद है कि इस ब्लॉग की मदद से आपको डायबिटीज फूड चार्ट के बारे में पता चल गया होगा। स्वास्थ्य से जुड़ी ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारी और एक सही डायबिटीज मैनेजमेंट के बारे में जानने के लिए,ऑनलाइन ग्लूकोमीटर खरीदनेयाऑनलाइन हेल्थ कोच कंसल्टेशनबुक करने के लिएBeatOके साथ बने रहिये।

डिस्क्लेमर: इस लेख में बताई गयी जानकारी सामान्य और सार्वजनिक स्रोतों से ली गई है। यह किसी भी तरह से चिकित्सा सुझाव या सलाह नहीं है। अधिक और विस्तृत जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने डॉक्टर से परामर्श लें। BeatoApp इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

Leave a Reply

Index