Home»Blog»Nutrition And Food » What is BMI in Hindi: क्या होता है BMI, ऐसे कर सकते हैं बॉडी मास इन्डेक्स कैलकुलेट

What is BMI in Hindi: क्या होता है BMI, ऐसे कर सकते हैं बॉडी मास इन्डेक्स कैलकुलेट

179 0
what is bmi
0
(0)

क्या आप जानते हैं कि आपके शरीर का वजन आपकी उम्र और लंबाई के हिसाब से कितना होना चाहिए. अगर आप नहीं जानते हैं तो आप ये बॉडी मास इन्डेक्स (BMI) से जान सकते हैं. इसके साथ ही बॉडी मास इन्डेक्स कैलकुलेटर की मदद से जान सकते हैं कि आप फिट है. यहां हम आपको बता रहे हैं कि BMI क्या है और आप BMI कैलकुलेट कैसे कर सकते हैं. इसके साथ ही यह भी बता रहे हैं कि आपके शरीर का वजन आपकी उम्र और लंबाई के हिसाब से कितना होना चाहिए.

Free Doctor Consultation Blog Banner

बीएमआई क्या है (What is BMI in Hindi)

बीएमआई (BMI) का फुल फॉर्म बॉडी मास इन्डेक्स है. BMI से आप किसी व्यक्ति का वजन उसकी लंबाई और उम्र के हिसाब से सही है या नहीं. इससे आप जान सकते हैं कि कहीं आप मोटापे की चपेट में तो नहीं आ चुके है और यह भी जान सकते हैं कि आप अंडरवेट तो नहीं हैं.

ये भी पढ़ें: डायबिटीज में काजू खाने के फायदे

BMI कैसे कैल्कुलेट करें (How To Calculate BMI in Hindi)

बॉडी मास इन्डेक्स को पता लगाने का एक फॉर्मूला है. आपको अपना BMI जानने के लिए सबसे पहले आपको अपना वजन लिखें. इसके बाद आपको अपनी लंबाई को मीटर लिखना होगा और इसे लंबाई के गुणाफल से डिवाइड कर दें. इसके बाद जो परिणाम आएगा, वह आपकी BMI है.

पुरुषों के लिए BMI चार्ट (BMI Chart for Men in Hindi)

  1. बॉडी मास इन्डेक्स कैलकुलेट करने के बाद अगर आपका BMI 18.5 से से कम आता है, तो इसका मतलब है कि आप अंडरवेट है यानि आपके शरीर का वजन बहुत कम है.
  2. वहीं, जब आपका BMI रिजल्ट 18.5 और 24.9 के बीच आता है तो इसका मतलब है कि आपके शरीर का वजन लंबाई के हिसाब से बिल्कुल परफेक्ट है.
  3. अगर आपको BMI कैलकुलेट करने पर 25 और 29.9 के बीच नंबर आता है, तो ये संकेत देता है कि आप ओवरवेट है.
  4. वहीं अगर आपका BMI कैलकुलेट करने के बाद नंबर 30 या इससे ज्यादा आता है तो आप मोटापे के शिकार है.

ये भी पढ़ें: Apple Khane ke Fayde, जो करेंगे आपकी डायबिटीज कंट्रोल करने में मदद

महिलाओं के लिए BMI चार्ट (BMI Chart for Women in Hindi)

  1. अगर महिलाओं का बॉडी मास इन्डेक्स कैलकुलेट करने के बाद 18.0 से कम होता है तो वह अंडरवेट है.
  2. अगर BMI 18.0 और 24.9 के बीच होता है, तो आपका वजन परफेक्ट है.
  3. वहीं अगर आपका BMI 25 और 29.9 के बीच है तो आप ओवरवेट है.
  4. जिस महिला का BMI 30 के उपर है वह मोटापे की शिकार है.

बच्चों के लिए बीएमआई चार्ट (BMI Chart for Children in Hindi)

बच्चों का बॉडी मास इन्डेक्स कैलकुलेट वयस्कों की तुलना में कुछ अलग तरीके से निकाला जाता है. बच्चों का BMI पर्सेंटाइल में निकाला जाता है. इसे आप इस तरह से समझ सकते हैं कि किसी बच्चे का पर्सेंटाइल पांच से कम हैं तो वह बच्चा अंडरवेट है. वहीं, जिसका पांचवीं से ज्यादा और 85वीं पर्सेंटाइल से कम होगा तो उस बच्चे का वेट हेल्दी है. वहीं, जिनका पर्सेंटाइल 85 से 95 फीसद के बीच हो तो वह बच्चा ओवर वेट है.

ये भी पढ़ें: डायबिटीज और डिहाइड्रेशन का क्या संबंध है?

एक हेल्दी बीएमआई क्या है (What is a healthy BMI in Hindi)

बॉडी मास इन्डेक्स किसी व्यक्ति के शरीर में कितना फैट है, इसके बारे में बताता है. हालांकि BMI और किसी व्यक्ति के शरीर में कितना फैट है, इसके बीच एक बड़ा संबंध है. फिर भी एक समान BMI वाले दो लोगों में शरीर में वसा की मात्रा अलग-अलग हो सकती है. भारतीय मानकों के मुताबिक 18.0 – 22.9 के बीच BMI पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए हेल्दी माना जाता है.

  1. यहां पर हम कुछ ऐसे कारक बता रहे हैं, जिन्हें आपको अपने शरीर में फैट के बारे में ज्यादा समझना हो.
  2. अगर एक पुरुष और महिला का BMI एक समान है तो भी महिलाओं में पुरुषों से ज्यादा फैट होगा.
  3. वहीं, अगल दो लोगों का BMI एक बराबर है तो भी उनके शरीर में फैट उनकी जातीय या नस्लीय समूह के आधार पर कम या अधिक हो सकती है.
  4. साथ ही एक एथेलिट और गैर-एथेलिट के शरीर में फैट की तुलना की जाए तो क एथलीट के शरीर में गैर-एथलीट की तुलना में बहुत कम वसा होगी.
  5. वहीं, जो लोग अधिक उम्र के हैं, उनके शरीर में औसतन युवा की तुलना में अधिक फैट होगा.

कम बीएमआई का सेहत पर क्या पड़ता है असर (Health effects of Low BMI in Hindi)

अगर किसी व्यक्ति का BMI कम होता है, तो उन्हें कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. कम BMI से पता चलता है कि व्यक्ति का वजन कम है, ऐसे में उसे कुछ सेहत संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. जैसे-

  1. ऑस्टियोपोरोसिस
  2. खून की कमी होना.
  3. कुपोषण का शिकार हो सकते हैं.
  4. रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो सकती है.
  5. महिलाओं का बांझपन का सामना करना पड़ सकता है.

ये भी पढ़ें: डायबिटीज में तलाश है एक हेल्थी और मज़ेदार ड्रिंक की? ट्राई करें – सिट्रस बेसिल लिमोनसेलो रेसिपी

ज्यादा बीएमआई का सेहत पर असर (health effects of a high BMI in Hindi)

जिस तरह शरीर में BMI का कम होने पर सेहत पर बुरा असर पड़ता है, उसी तरह इसके ज्यादा होने पर भी बॉडी पर बुरा असर पड़ता है. ज्यादा BMI होना बताता है कि व्यक्ति का वजन ज्यादा है. जिसके चलते उसे कुछ सेहत से संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है.

  1. बॉडी मास इन्डेक्स ज्यादा होने पर आपको डायबिटीज हो सकता है.
  2. रात में सोने के दौरान सांस लेने की समस्या हो सकती है.
  3. हाथ-पैर की अंगुलियों में दर्द होता है और सूजन हो सकती है.
  4. हाई ब्लड प्रेशर से परेशान रह सकते हैं.
  5. कोलेस्ट्ऱॉल बढ़ सकता है.
  6. लीवर से संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है.

उम्मीद है कि इस ब्लॉग की मदद से आपको बॉडी मास इन्डेक्स से संबंधित सभी चीजों के बारे में पता चल गया होगा। स्वास्थ्य से जुड़ी ऐसी ही महत्पूर्ण जानकारी और एक सही डायबिटीज मैनेजमेंट के बारे में जानने के लिए, ऑनलाइन ग्लूकोमीटर खरीदने या ऑनलाइन हेल्थ कोच कंसल्टेशन बुक करने के लिए BeatO के साथ बने रहिये।

डिस्क्लेमर: इस लेख में बताई गयी जानकारी सामान्य और सार्वजनिक स्रोतों से ली गई है। यह किसी भी तरह से चिकित्सा सुझाव या सलाह नहीं है। अधिक और विस्तृत जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने डॉक्टर से परामर्श लें। BeatoApp इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

Leave a Reply

Index