Home  »  Blog  »  BeatO अनबिटेबल टेस्टीमोनियल्स   »   बीटो अनबीटेबल | रितेश जैन: “बीटो के साथ मेरा एचबीए1सी स्तर 11.3% से घटकर 6.8% हो गया है”

बीटो अनबीटेबल | रितेश जैन: “बीटो के साथ मेरा एचबीए1सी स्तर 11.3% से घटकर 6.8% हो गया है”

1667 0
Ritesh Jain
0
(0)

रितेश जैन
35 वर्ष, जौहरी
टाइप 2 डायबिटीज़ से पीड़ित

रितेश जैन 35 साल के हैं, वह अपनी पत्नी, माता-पिता और दो बेटों के साथ बेंगलुरु में रहते हैं। रितेश जैन पेशे से एक जौहरी हैं और बेंगलुरु में उनके कई आउटलेट हैं। वह नियमित रूप से अपनी स्वास्थ्य जांच कराते हैं और जिस के माध्यम से ही उन्हें अपनी मधुमेह की स्थिति के बारे में पता चला।

Free Doctor Consultation Blog Banner_1200_350_Hindi (1)

“मुझे 2009 में यह पता चला कि मुझे टाइप 2 डायबिटीज़ है। मेरा HbA1c 11.3% था। मुझे हर समय शरीर में कंपकंपी और पसीना आता रहता था। मेरा परिवार इस बात से बहुत चिंता में था । जिस के बाद मैंने तुरंत डॉक्टर से सलाह ली। डॉक्टर ने मुझे कुछ दवाएँ दी, लेकिन उनसे मेरी हालत और खराब होती चली गई, वह इलाज मेरे लिए बिल्कुल भी मददगार नहीं रहा।

 रितेश पहले अस्वस्थ जीवनशैली जी रहे थे जिसके कारण वह इस लम्बे समय की समस्या का (क्रोनिक कंडीशन) शिकार हुए। उन्हें अपनी स्थिति को नियंत्रित करने के लिए नियमित रूप से अपने शुगर लेवल की निगरानी करने की सलाह दी गई थी।

मैंने 2018 में बीटो के साथ अपने सफ़र की शुरूवात की थी, जब मैं अपनी शुगर रीडिंग पर नज़र रखने का एक सही तरीका ढूंढ रहा था। बीटो ने मुझे मेरे HbA1c लेवल की तुरंत जांच करने की सुविधा दी और साथ ही मेरे स्वास्थ्य प्रशिक्षक ने मुझे कम कार्ब वाले वाली चीज़े खाने सलाह भी दी और जिस के बाद मैंने छह महीने तक कार्ब वाला खाना पूरी तरह से बंद कर दिया, जो कि मेरी मधुमेह की स्थिति को नियंत्रित करने की यात्रा में बहुत मददगार रहा । मैं नियमित रूप से ध्यान का अभ्यास करता हूं जिस से मुझे अपने तनाव के स्तर को कम करने में मदद मिली है ।

रितेश का एक फिटनेस नियम है और वह अपने स्वास्थ्य प्रशिक्षक द्वारा दी गई सभी सलाह का पालन करते हैं, बीटो के साथ उनके परिणाम संतोषजनक रहे हैं। अपने लक्ष्य के प्रति सही समर्पण के साथ, वह बेहतर परिणाम पाने में सक्षम हो पाए।

“मेरा HbA1c स्तर 11.3% से घटकर 6.8% हो गया है। मेरी फास्टिंग रीडिंग 500 mg/dl से घटकर 120 mg/dl हो गई है। मेरे तनाव का स्तर भी कम हो गया है और अब मुझे पहले जितना पसीना भी नहीं आता है।

उन्होंने 25 किलो वजन कम किया है जिससे उनमें आत्मविश्वास की भावना पैदा हुई है। पहले वह एक दिन में 40 यूनिट इंसुलिन लेते थे और अब यह शून्य पर आ गया है।

जब भी मेरा शुगर लेवल ज्यादा या कम होता है, मुझे तुरंत मेरे स्वास्थ्य प्रशिक्षक का फोन आ जाता है।

उन्होंने मुझे बदलाव के पीछे का कारण समझने में मदद की और कुछ ज़रूरी बदलाव करने में मेरी मदद की। बीटो एक डॉक्टर की तरह है जो लगातार आपकी शुगर रीडिंग पर नज़र रखता है। बीटो के स्वास्थ्य प्रशिक्षक अपना काम बहुत अच्छे से कर रहे हैं और वे मधुमेह के रोगियों को जल्द ही उनकी स्थिति से बाहर आने में मदद करते हैं।”

रितेश ने अपनी मधुमेह की स्थिति को प्रबंधित करने में बहुत धैर्य और दृढ़ संकल्प दिखाया है। वह अब ज्यादा खुशहाल और स्वस्थ जीवन जीने में सक्षम है।

“मैं अपनी मधुमेह की स्थिति में 100 प्रतिशत सुधार की आशा कर रहा हूँ।

मैं चाहता हूं कि लोगों को पता चले कि मधुमेह जीवन भर चलने वाली समस्या नहीं है और इसे सही जीवनशैली और खान – पान में बदलाव की मदद से नियंत्रित किया जा सकता है।

रितेश अपने काम के लिए बहुत जुनूनी हैं क्योंकि वह पिछले 17 वर्षों से इसमें हैं। स्वस्थ शरीर के साथ, वह अब और अच्छे से अपना काम काम कर रहें है।

“एक जौहरी होने के नाते, मुझे अपने क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा शोध करना पसंद है और मैं दूसरों को मेरे साथ काम करने का अवसर देना चाहता हूं। मैं मेहनती और उत्साही लोगों के साथ काम करना चाहता हूँ जो मेरे बिजनस को बढ़ाने में मेरी मदद कर सकें। मैं पत्रिकाएँ लिखता हूँ और मैं जल्द ही अपनी जीवनी लिखने की भी योजना बना रहा हूँ।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

Himani Maharshi

Himani Maharshi

हिमानी महर्षि, एक अनुभवी कंटेंट मार्केटिंग, ब्रांड मार्केटिंग और स्टडी अब्रॉड एक्सपर्ट हैं, इनमें अपने विचारों को शब्दों की माला में पिरोने का हुनर है। मिडिया संस्थानों और कंटेंट राइटिंग में 5+ वर्षों के अनुभव के साथ, उन्होंने मीडिया, शिक्षा और हेल्थकेयर में लगातार विकसित हो रहे परिदृश्यों को नेविगेट किया है।

Leave a Reply